इश्क़ में देवर और भाभी ने कर दी सारी हदें पार, आठ साल तक पति को नहीं हुई खबर

कहते है की प्यार जब किसी से होता है तो हम सब कुछ भूल जाते हैं. क्योंकि प्यार एक ऐसा रोग जो हमें अँधा कर देता है और सही और गलत का अंदाजा भी नहीं लगने देता है. अक्सर कहा जाता है की प्यार में अंधे लोग ऐसा कृत्य कर देते है जिसकी किसी को उम्मीद भी नहीं होती है. आज हम आपको ऐसे ही देवर और भाभी से मिलवाने वाले हैं, इन्होने जो कृत्य किया उसकी कोई कल्पना भी नहीं कर सकता था पर कहते है ना की जब बुद्धि भ्रष्ट होती है तो यह पता नहीं चलता की क्या करना है और क्या नहीं.

भोवापुर गाँव की है यह घटना

यह खबर है एक छोटे से गाँव की पर गाँव में एक ऐसा काण्ड हो रहा था जिसपर किसी की नजर नहीं पड़ी. माना जाता है की इस गाँव की निवासी महिला की शादी आठ साल पहले कनौज गाँव के एक व्यक्ति के साथ हुई थी. सूत्रों के अनुसार महिला का प्रेम प्रसंग दो महीने बाद ही अपने देवर के साथ हो गया था.

 

नहीं पता चला पति को

पर हैरत की बात यह है की दोनों के बारें में महिला के पति को कुछ भी पता नहीं था और दोनों एक ही घर में रहकर ऐसा कुकर्म कर रहे थे. आखिर वो रात आ ही गई थी जब दोनों एक दुसरे से मिल रहे थे और पति ने दोनों को रंगे हाथो पकड़ लिया.

देवर से शादी करने की मांग

जब पति के द्वारा महिला को मारा गया तो महिला ने जो जिद की उसे सुनकर आपके होश उड़ जायेगे . महिला ने अपने देवर से शादी करने की मांग रख दी और कहा की यदि उसकी शादी उसके देवर के साथ नहीं करवाई गई तो वो माईके चली जायेगी.

देवर के साथ भाग गई आखिर

गाँव वालों की मदद से महिला को ससुराल लाया गया पर दो दिन बाद महिला मौका देखकर अपने देवर के साथ घर से भाग गई और इसी शहर में एक किराए के रूम में देवर के साथ रहने लग गई है.

दो बच्चो की माँ है महिला

जब यह मामला पुलिस के पास गया तो देवर ने कहा की महिला के दोनों बच्चे उसके है और वो अपनी भाभी से शादी करना चाहता हैं.