सुपर-30 के आनंद कुमार पे फ़िल्मकार ने लगाया गंभीर आरोप, जान कर हैरान रह जायेंगे

शिक्षक समाज का आईना होते है एवं राष्ट्र निर्माण में अहम भूमिका निभाता है। प्राचीन समय से चली आ रही परंपरा के अनुसार गुरुओं का स्थान सर्वोपरी होता है। शिक्षकों की भूमिका एवं योगदान के लिए शब्द कम पड़ जाएंगे।

शिक्षकों का कर्तव्य होता है कि वो समाज को सही दिशा दिखाए, बच्चों का शैक्षणिक ही नहीं बल्कि चारित्रिक निर्माण में भी अहम भूमिका निभाये। इन्हीं कारणों से बच्चे शिक्षकों को अपना आदर्श मानते है एवं उनका अनुसरण करते है। इस आदर्श स्थिति के विपरीत यदि कोई शिक्षक किसी गलत कार्य मे संलिप्त होते है तो उस एक के कृत्य का असर पूरे शिक्षक वर्ग पर पड़ता है। इस स्थिति में बच्चों का आदर्श प्रभावित होता है।आज पुनः वही विकट स्थिति आ चुकी है एवं एक शिक्षक के कृत्य की चर्चा हो रही है।

मै बात कर रहा हूँ आनंद कुमार का जो सुपर-30 के वजह से जाने जाते है, और आज सुपर-30 देश विदेश में चर्चा का विषय बना हुआ है यहाँ तक की आनंद जी के ऊपर एक बायोपिक फिल्म भी आ रही है और ये काफी बच्चो के आदर्श भी है लेकिन जो सच सामने आया है उससे आज फिर एक शिक्षक ने सारे शिक्षक को जनता के कटघरे में खड़ा कर दिया है।

सुजीत के सिंह द्वारा किया गया पोस्ट-

My name is Sujit and it was me who had filed an RTI on Super 30. Truth is that Mr Anand Kumar, co-founder of Super 30,…

Posted by Sujit K Singh on Saturday, February 10, 2018

सुजीत कुमार सिंह अपने फेसबुक स्टेटस डालते हुए अपने एक जिन्दगी में घटे घटना का जिक्र किया है जो आनंद के चरित्र को दर्शाता है। आनंद कुमार के कहने पे सुजीत ने एक RTI फाइल कर PSU की कुछ जानकारियाँ माँगी जो सुपर-30 के विभिन्न शाखाओं को फंडिंग कर रहा था और उसके अकेडमिक मेंटर बिहार के पूर्व डीजीपि और सुपर-30 के को फाउंडर अभयानंद जी थे। इस जानकारी को इकठ्ठा करने का सिर्फ एक मात्र वजह था अभयानंद को निचे दिखाना और घोटालो के लिस्ट में अभयानंद का नाम दर्ज करना लेकिन यह आनंद की कोसिस नाकाम हो गई जब PSU ने साफ़ कर दिया की अभयानंद एक रुपया भी इन संस्थावों से नही लेते है।

Posted by Centre for Social Responsibility & Leadership on Sunday, February 11, 2018

 

सुजीत कुमार सिंह आनंद जी को 2006 से जानते है और अपने पोस्ट के माध्यम से बहुत सरे सवाल खड़ा किया है जो आनंद के चरित्र पे सवाल है। आनंद जी को खुली चुनौती देते हुआ कहा है की अब मै मीडिया के सामने, जनता के सामने आनंद से डिबेट करना चाहता हु और आनंद को खुली चुनौती दे दिया है।

अब इंतजार है तो आनंद जी के जवाब का। पर सवाल ये भी है ऐसे बहुत सरे इल्जाम आनंद पे लगे है लेकिन वह जवाब नही देते। क्या आनंद कुमार सुजीत को जवाब देंगे? क्या मीडिया के सामने आयेंगे? क्या जनता को ओ जवाब दे पायेंगे? ऐसे बहुत से सवाल है अब इंतजार है तो आनंद जी के जवाब का।

अगर आपका भी आनंद जी से कोई सवाल है तो आप कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे।